soyabean pod borer

soyabean pod borer: सोयाबीन फली छेदक कीट - पहचान, नियंत्रण और प्रबंधन

किसान भाइयों नमस्कार, स्वागत है BharatAgri Krushi Dukan वेबसाइट पर। सोयाबीन एक महत्वपूर्ण फसल है जिससे पूरे विश्व में पौधों की उगाई जाती है। इसमें प्रोटीन और अन्य पोषक तत्व मौजूद होते हैं, जो हमारे स्वास्थ्य के लिए आवश्यक होते हैं। हालांकि, सोयाबीन की फसलें अक्सर इल्लियों और कैटरपिलर जैसे कीटों के हमले से प्रभावित होती हैं, जो फसल को नुकसान पहुंचा सकते हैं। कैटरपिलर और इल्लियों पौधों की पत्तियों और तनों को खा जाते हैं, जिनमें "सोयाबीन फली छेदक कीट" (soybean pod borer) भी शामिल है। जिससे पैदावार में कमी होती है और फसल की गुणवत्ता प्रभावित होती है। इस ब्लॉग में, हम इस कीट की पहचान, नियंत्रण, और प्रबंधन के उपायों पर विस्तार से चर्चा करेंगे।


सोयाबीन फली छेदक कीट की पहचान | Identification of soybean pod borer -

फली छेदक कीट (Pod Borer) सोयाबीन सहित बहुत सी फसलों के लिए एक मुख्य हानिकारक कीट है। यह कीट सूंडी मुलायम पत्तियों, कलियों, पुष्पों और फलियों को खाती है। एक सूंडी अपने जीवनकाल में 30-40 फलियों को खा सकती है। मादाएं अपने जीवनकाल में 1200-1400 अंडे प्रायः पौधों के शीर्ष भागों पर देती हैं, परंतु ये पुष्पों के ऊपर अंडे देने के लिए प्राथमिकता देती हैं। सूंडी का रंग पीले-हरे से गुलाबी, संतरी, भूरा तथा मटमैला-काला होता है। ये छोटी फलियों को पूरी तरह से खा लेती है जबकि वयस्क सूंडी केवल बीजों को खाती है।


सोयाबीन फली छेदक कीट नियंत्रण उपाय | Soyabean pod borer control -

क) निवारात्मक उपाय (Preventive) - 

1. समय पर बुवाई करना: बुआई का समयिक महत्व होता है क्योंकि सही समय पर बुवाई करने से फली छेदक कीट के प्रभाव को कम किया जा सकता है।

2. अनुशंसित पौध अंतरण: फली छेदक कीट के प्रकोप को कम करने के लिए अनुशंसित पौध अंतरण करें। यह प्रभावी तरीका है जो प्रजनन प्रक्रिया को रोकने में मदद कर सकता है।

3. संतुलित उर्वरकों का उपयोग: संतुलित उर्वरकों का उपयोग करना महत्वपूर्ण है। उर्वरकों की सही मात्रा का पालन करें, जैसे कि अधिक नाइट्रोजन का उपयोग न करें।

4. पुराने खरपतवार को नष्ट करें: खेत में पड़े पुराने खरपतवार और अवशेषों को नष्ट करना आवश्यक है क्योंकि इनमें फली छेदक कीट के लार्वे छुपे होते हैं।

5. मृत गोभ को नष्ट करें: अगर मृत गोभ पाए जाते हैं, तो उन्हें नष्ट कर दें क्योंकि इनमें भी फली छेदक कीट के लार्वे हो सकते हैं।

ख) जैविक नियंत्रण | Soybean pod borer organic control -

1. फेरोमोन ट्रैप: 5 फेरोमान ट्रैप प्रति एकड़ का प्रयोग करना चाहिए। ये ट्रैप कीटों की निगरानी में मदद कर सकते हैं।

2. कीट भक्षी पक्षियों का सहारा: T आकार की खूँटियाँ 20-25 प्रति हेक्टेयर के स्थान पर रखना फली छेदक कीट के खिलाफ कीट भक्षी पक्षियों को आकर्षित कर सकता है।

3. जैविक उपाय: IFC नीम ऑइल (10000 PPM) का 250 मिली प्रति एकड़ 150 लीटर पानी में छिड़काव करने से जैविक नियंत्रण संभव है।

4. जैविक शत्रु प्रणाली: सोयाबीन फली छेदक कीट के प्रबंधन के लिए जैविक शत्रु प्रणाली को अपनाएं, जैसे कि प्राकृतिक दुश्मन कीटों को बढ़ावा देने की तकनीकें।

Funnel TrapIFC Neem Oil


ग) निवरात्मक उपाय (Curative) -

1. बायर सोलोमन कीटनाशक: बीटा-साइफ्लुथ्रिन + इमिडाक्लोप्रिड 300 ओडी का 150 मिली प्रति एकड़ 150 लीटर पानी में डाल कर छिड़काव करने से सोयाबीन फली छेदक कीट का नियंत्रण संभव हो सकता है।

2. सिंजेंटा अलिका कीटनाशक: थियामेथोक्साम 12.6% + लैम्ब्डा साइहलोथ्रिन 9.5% ZC का 80 मिली प्रति एकड़ 150 लीटर पानी में डाल कर छिड़काव करने से सोयाबीन फली छेदक कीट का नियंत्रण संभव हो सकता है।

3. धानुका ईएम1 कीटनाशक : एमेमेक्टिन बेंजोएट 5% एसजी का 80 ग्राम प्रति एकड़ 150 लीटर पानी में डाल कर छिड़काव करने से सोयाबीन फली छेदक कीट का नियंत्रण संभव हो सकता है।

4. सिंजेंटा एम्प्लिगो कीटनाशक : क्लोरेंट्रानिलिप्रोल 09.30% + लैम्ब्डा साइहलोथ्रिन 04.60% ZC का 100 मिली प्रति एकड़ 150 लीटर पानी में डाल कर छिड़काव करने से सोयाबीन फली छेदक कीट का नियंत्रण संभव हो सकता है।

5. FMC कोराजेन कीटनाशक: क्लोरैंट्रानिलिप्रोल, 18.5% w/w का 60 मिली प्रति एकड़ 150 लीटर पानी में डाल कर छिड़काव करने से सोयाबीन फली छेदक कीट का नियंत्रण संभव हो सकता है।

6. DOW डेलिगेट कीटनाशक: स्पिनटोरम 11.7% एससी का 180 मिली प्रति एकड़ 150 लीटर पानी में डाल कर छिड़काव करने से सोयाबीन फली छेदक कीट का नियंत्रण संभव हो सकता है।

Solomon InsecticideAlika InsecticideDhanuka Em1

Ampligo InsectcideFMC CoragenDelegate


FAQ | बार - बार पूछे जाने वाले सवाल - 

1. सोयाबीन फली छेदक कीट क्या है?

👉यह एक प्रमुख कीट है जो सोयाबीन पौधों को हानि पहुँचा सकता है।

2. सोयाबीन फली छेदक कीट की पहचान कैसे करें?

👉फली छेदक कीट का रंग पीले-हरे से गुलाबी, संतरी, भूरा तथा मटमैला-काला होता है।

3. फली छेदक कीट के प्रकोप के क्या कारण होते हैं?

👉अधिकतर मादाएं पुष्पों के ऊपर अंडे देने के लिए प्राथमिकता देती हैं, जिससे प्रजनन प्रक्रिया को रोकते हैं।

4. फली छेदक कीट के नियंत्रण के लिए कौन-कौन से उपाय होते हैं?

👉फेरोमोन ट्रैप्स, नीम आयल, कीट भक्षी पक्षियाँ, नेमाटोड्स, और कीट-मारक फसलों का संयोजन आदि।

5. फली छेदक कीट का जैविक नियंत्रण कैसे करें?

👉फेरोमोन ट्रैप्स, नीम आयल, कीट भक्षी पक्षियाँ, नेमाटोड्स, और प्राकृतिक शत्रुओं का प्रबंधन करके।

6. किस तरह से सोयाबीन फली छेदक कीट के प्रभाव को कम किया जा सकता है?

👉सोयाबीन की बुआई के समय सोयाबीन के उत्तर और पश्चिमी भाग में बुआई करने से कीटों का प्रबंधन संभव होता है।

7. क्या फली छेदक कीट के प्रकोप से बचाव संभव है?

👉सही समय पर बुआई, अनुशंसित पौध अंतरण, संतुलित उर्वरकों का उपयोग, पुराने खरपतवार को नष्ट करना आदि से बचाव संभव है।

8. किस प्रकार से सोयाबीन फली छेदक कीट के नियंत्रण के लिए नीम पेस्ट का प्रयोग किया जा सकता है?

👉नीम के पेस्ट को पौधों पर छिड़काव करके कीटों को नियंत्रित किया जा सकता है।

9. क्या सोयाबीन फली छेदक कीट के प्रभाव से बचाव के लिए नेमाटोड्स का उपयोग किया जा सकता है?

👉हां, नेमाटोड्स एक प्रभावी जैविक उपाय हो सकते हैं जो कीटों को खाते हैं और उनके प्रभाव को कम करते हैं।

10. सोयाबीन फली छेदक कीट का नियंत्रण कैसे किया जा सकता है?

👉नीम आयल, जैविक उर्वरक, कीट भक्षी पक्षियाँ, और कीट-मारक फसलों के साथ संयोजन जैसे उपायों से फली छेदक कीट का नियंत्रण किया जा सकता है।


Farmer also read | किसानों द्वारा पढ़े जाने वाले लेख -

1. pink bollworm chemical control: कपास की गुलाबी सुंडी नियंत्रण

2. antracol fungicide: बायर एंट्राकोल फफूंदनाशी - जाने उपयोग के फायदे 

3. armyworm in maize: मक्के में सैनिक सुंडी नियंत्रण A to Z जानकारी

4. tikka disease of groundnut: मूंगफली में टिक्का रोग नियंत्रण

5. soybean illi ki dawai: सोयाबीन में इल्ली नियंत्रण की दवा



लेखक

भारतअ‍ॅग्री कृषि डॉक्टर


होम

वीडियो कॉल

VIP

फसल जानकारी

केटेगरी