curzate fungicide

curzate fungicide: कंटेन्ट, उपयोग का तरीका और फायदे

किसान भाइयों नमस्कार, स्वागत है BharatAgri Krushi Dukan वेबसाइट पर। इस ब्लॉग में, हम आपको कोर्टेवा कर्ज़ेट फफूंदनाशी  curzate fungicide  (सिमोक्सानिल 8% + मैनकोज़ेब 64% WP) के बारे में पूरी जानकारी प्रदान करेंगे, जिसमें इसके उपयोग के लाभ, मूल्य, रोगों का नियंत्रण और उपयोग मात्रा जैसी महत्वपूर्ण जानकारी आपको मिल जाएगी ।

कोर्टेवा कर्ज़ेट फफूंदनाशी  curzate fungicide technical  (सिमोक्सानिल 8% + मैनकोज़ेब 64% WP) एक प्रभावी फफूंदनाशी है जो कई प्रकार के कवक और रोगों के खिलाफ सुरक्षा प्रदान करती है। यह उत्पाद एक व्यापक स्पेक्ट्रम कवकनाशी होता है और इसमें मल्टीसाइट मोड क्रिया होती है, जिससे यह संपर्क और प्रणालीगत दोनों क्रियाओं के माध्यम से रोगों को नियंत्रित करता है। 

कोर्टेवा कर्ज़ेट फफूंदनाशी | Corteva curzate Fungicide -

1. उत्पाद का नाम - कर्ज़ेट फफूंदनाशी

2. उत्पाद सामग्री curzate fungicide technical name - सिमोक्सानिल 8% + मैनकोज़ेब 64% डब्ल्यूपी

3. कंपनी का नाम - कोर्टेवा 

कोर्टेवा कर्ज़ेट फफूंदनाशी  curzate fungicide  (सिमोक्सानिल 8% + मैनकोज़ेब 64% डब्ल्यूपी)  की विशेषताएं -

1. कर्ज़ेट एक व्यापक स्पेक्ट्रम फफूंदनाशी है, जिसमें संपर्क और प्रणालीगत दोहरी क्रिया होती है।

2. कर्ज़ेट में निवारक और उपचारात्मक गुण दोनों पाए जाते हैं।

3. कर्ज़ेट एक शक्तिशाली फफूंदनाशी है, जिसका उपयोग ओमाईसेट्स कवक - पछेती झुलसा और डाउनी मिल्ड्यू के नियंत्रण के लिए किया जाता है।

4. कर्ज़ेट फफूंदनाशी कई फसलों के लिए एक प्रभावी रोग नियंत्रण उत्पाद है। यह वर्तमान में आलू, टमाटर, अंगूर और खीरे में व्यावसायिक उपयोग के लिए पंजीकृत है

5. इसकी अति-प्रणालीगत अवशोषण और स्थानान्तरण क्षमताओं के कारण फसल को रोगों से सुरक्षित रखने में मदद करता है।

6. कर्ज़ेट फफूंदनाशी कई फसलों के लिए एक प्रभावी रोग नियंत्रण उत्पाद है। यह वर्तमान में आलू, टमाटर, अंगूर और खीरे में व्यावसायिक उपयोग के लिए पंजीकृत है

7. इसकी अति-प्रणालीगत अवशोषण और स्थानान्तरण क्षमताओं के कारण फसल को रोगों से सुरक्षित रखने में मदद करता है।

कर्ज़ेट फफूंदनाशी के फसल में उपयोग और फायदें - curzate fungicide uses in hindi -

1. कर्ज़ेट का उपयोग (curzate fungicide uses) फसलों में आने वाले फफूंद जनित रोगों के नियंत्रण के लिए किया जाता है।

2. इसका छिड़काव आलू, टमाटर, अंगूर और खीरे और सब्जियों जैसी फसलों पर किया जा सकता है।

3. कर्ज़ेट पछेती झुलसा, लिफ स्पॉट, गमोसिस, डाउनी मिल्ड्यू और हल्का फफूंदी जैसे सभी प्रमुख फफूंदी रोगों को नियंत्रित करता है।

4. कर्ज़ेट की मात्रा आमतौर पर 450 ग्राम प्रति एकड़ में 150 लीटर पानी में घोल कर छिड़काव की जाती है, या फिर 3 ग्राम प्रति लीटर पानी में उपयोग किया जा सकता है।

5. कर्ज़ेट स्पर्शीय और अंतरप्रवाही फफूंदीनाशक है, जिसमें सिमोक्सानिल 8% अंतरप्रवाही काम करता है और मैनकोजेब 64% स्पर्शीय काम करता है।

6. कर्ज़ेट एक प्रोटेक्टिव फफूंदनाशक है, जिसमें curzate fungicide content - Cymoxanil और Mancozeb द्वारा पौधों को दोहरी सुरक्षा मिलती है।

7. कर्ज़ेट  को आमतौर पर कीटनाशक (Insecticide), फफूंदनाशक (Fungicide), पोषक तत्त्व, या प्लांट ग्रोथ रेगुलेटर (Plant Growth Regulator) के साथ मिलाकर फसल में छिड़काव किया जा सकता है।


कृती की विधि -

1. यह पत्तियों और पौधों के अन्य भागों पर एक सुरक्षात्मक परत बनाता है जो संपर्क गतिविधि के माध्यम से संक्रमण को रोकता है।

2. अंतरकोशिकीय तंतु के निर्माण को रोकता है जो पौधे के भीतर रोगजनकों के प्रसार को रोकता है।

कर्ज़ेट की महत्वपूर्ण जानकारी | Important information about curzate fungicide -


उत्पाद का नाम 

कर्ज़ेट  curzate

कंपनी 

कोर्टेवा Corteva 

रासायनिक संरचना curzate fungicide technical name

सिमोक्सानिल 8% + मैनकोज़ेब 64% डब्ल्यूपी  
Mancozeb 64% + Cymoxanil 8% WP

कृती की विधि 

प्रणालीगत और संपर्क

अनुशंसित फसले curzate fungicide uses

आलू, टमाटर, अंगूर,नींबू, संत्रा, मोसंबी और खीरे और सब्जिया 

नियंत्रित रोग :

पछेती झुलसा, लिफ स्पॉट, गमोसिस, डाउनी मिल्ड्यू और हल्का फफूंदी

फवारणी मात्रा curzate fungicide dosage

3 ग्राम प्रति लीटर पानी 

45 ग्राम प्रति 15 लीटर पंप 

600 ग्राम प्रति एकर (200 लीटर पानी)

किंमत

600 ग्राम  - 1030 रुपये 


Conclusion | सारांश - 

कर्ज़ेट फफूंदनाशी (सिमोक्सानिल 8% + मैनकोज़ेब 64% डब्ल्यूपी)  curzate fungicide  एक प्रभावी फफूंदनाशी है जो कई प्रकार के कवक और रोगों के खिलाफ सुरक्षा प्रदान करती है। इसका उपयोग सब्जियों, फलों, और अन्य फसलों में फफूंदनाशी समस्याओं के खिलाफ किया जा सकता है। इसका उपयोग खासकर पछेती झुलसा और डाउनी मिल्ड्यू के खिलाफ होता है और यह फसलों को रोगों से सुरक्षित रखने में मदद करता है। इसके अति-प्रणालीगत अवशोषण और स्थानान्तरण क्षमताओं के कारण फसल को रोगों से सुरक्षित रखने में मदद करता है ।

FAQ | बार - बार पूछे जाने वाले सवाल -  

1. कर्ज़ेट क्या है?

जवाब - कर्ज़ेट  एक प्रभावी फफूंदनाशी है जिसका उपयोग फसलों में फफूंदनाशी से बचाव के लिए किया जाता है.

2. कर्ज़ेट  कैसे काम करता है?

जवाब - यह फफूंदनाशी फसल में प्रणालीगत और संपर्क क्रिया करके कवकों को नष्ट करता है.

3. कितनी मात्रा में इसका उपयोग करना चाहिए?

जवाब - आमतौर पर, 3 ग्राम प्रति लीटर पानी में छिड़काव करने के लिए.

4. यह कितने प्रकार के फफूंदी रोगों के खिलाफ काम करता है?

जवाब - इससे अनेक प्रकार के फफूंदी रोगों जैसे पछेती झुलसा, लिफ स्पॉट, गमोसिस, डाउनी मिल्ड्यू और हल्का फफूंदी को नियंत्रित किया जा सकता है.

5. यह किस प्रकार काम करता है, स्पर्शीय या प्रणालीगत?

जवाब - कर्ज़ेट फफूंदनाशी दोनों स्पर्शीय और प्रणालीगत काम करता है.

6. इसका उपयोग अन्य कीटनाशकों के साथ किया जा सकता है?

जवाब - हां, इसका उपयोग कीटनाशक, फफूंदनाशक, पोषक तत्त्व, या प्लांट ग्रोथ रेगुलेटर के साथ मिलाकर किया जा सकता है.


Farmer also read | किसानों द्वारा पढ़े जाने वाले लेख - 

1. chilli varieties: मिर्च की उन्नत किस्मे जो देगी आपको डबल उत्पादन

2. गन्ने की फसल में 100 टन उपज देने वाली उर्वरक की मात्रा

3. Syngenta Alika: सिंजेंटा अलिका कीटनाशक की सम्पूर्ण जानकारी

4. ridomil gold: सिंजेंटा रिडोमिल गोल्ड फफूंदनाशी की सम्पूर्ण जानकारी

5. tomato leaf blight: टमाटर झुलसा रोग के लक्षण, प्रसार और नियंत्रण



लेखक | Author -

BharatAgri Krushi Doctor

Back to blog

Leave a comment

Please note, comments need to be approved before they are published.


होम

फसल जानकारी

VIP

केटेगरी

आर्डर