pm kisan samman nidhi scheme

pm kisan samman nidhi scheme: पी एम किसान सम्मान निधि योजना की पूरी जानकारी

किसान भाइयों नमस्कार, स्वागत है BharatAgri Krushi Dukan वेबसाइट पर। इस लेख में, हम इस योजना से जुड़े सभी महत्वपूर्ण जानकारी को स्पष्टता से प्रस्तुत करेंगे, जिसमें पात्रता, आवेदन प्रक्रिया और योजना के लाभ शामिल हैं। 

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना, (pm kisan samman nidhi scheme) जिसका शुभारंभ हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा किया गया, किसानों के आर्थिक सुधार के लिए एक महत्वपूर्ण कदम है। इस योजना के तहत, हर साल ₹6000 की धनराशि किसानों के खाते में तीन बराबर किस्तों में हस्तांतरित की जाती है। प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना का उद्देश्य किसानों की आर्थिक स्थिति को मजबूती देना है। इसका लाभ वे सभी किसान पाते हैं जिनके पास 2 हेक्टेयर से कम खेती योग्य जमीन है। इस लेख में, हम इस योजना से जुड़े सभी महत्वपूर्ण जानकारी को स्पष्टता से प्रस्तुत करेंगे, जिसमें पात्रता, आवेदन प्रक्रिया और योजना के लाभ शामिल हैं। 


पी एम किसान सम्मान निधि योजना क्या हैं? | What is PM Kisan Samman Nidhi Scheme?

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना (PM-Kisan Yojana) एक सरकारी योजना है जो भारत सरकार द्वारा शुरू की गई है। इस योजना का मुख्य उद्देश्य भारतीय किसानों को आर्थिक समर्थन प्रदान करना है, खासकर छोटे और सामान्य आकार के किसानों को जिनके पास अपना खेत है। यह योजना जनवरी 2019 में शुरू की गई थी और हर साल किसानों को ₹6000 की धनराशि देने का उद्देश्य है, जो तीन बराबर किस्तों में ₹2000-2000 के रूप में वितरित की जाती है।

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना (PM-Kisan Yojana)" के तहत केंद्र सरकार द्वारा प्रति वर्ष दिए जाने वाले ₹6000 के वित्तीय सहायता को तीन बराबर किश्तों में वितरित किया जा रहा है, जिसमें प्रत्येक किश्त में ₹2000 की राशि होती है और यह राशि किसानों के बैंक खातों में सीधे ट्रांसफर की जाती है। इस योजना के तहत 2023 में लगभग 12 करोड़ छोटे और सीमांत किसान शामिल होंगे और इसके लिए कुल 75,000 करोड़ रूपये की लागत होगी। इस योजना के तहत, 31 मार्च 2019 को 2.25 करोड़ लाभार्थी किसानों को पहली किश्त Direct Bank Transfer (DBT) के माध्यम से मिल चुकी है।


पी एम किसान सम्मान निधि योजना  के उद्देश्य  | Objective pm kisan samman nidhi scheme -

भारत, एक प्रमुख कृषि प्रधान देश होने के नाते, यहाँ 75% जनसंख्या खेती करती है, और इसलिए भारत सरकार ने खेतीकर्ताओं के लिए आर्थिक सहायता प्रदान करने के उद्देश्य से "प्रधानमंत्री किसान सम्मान योजना 2023" की शुरुआत की है। इस योजना के माध्यम से, खेती करने वाले किसानों को बेहतर आजीविका प्रदान करने, उन्हें आत्मनिर्भर और सशक्त बनाने का उद्देश्य है।

1. किसानों की आर्थिक सुरक्षा: pm kisan samman nidhi scheme योजना का मुख्य उद्देश्य किसानों को आर्थिक सुरक्षा प्रदान करना है, जिससे वे अपने खेती के लिए संधारित और सुरक्षित महसूस करें।

2. छोटे और सामान्य किसानों का समर्थन: योजना छोटे और सामान्य आकार के किसानों को विशेष रूप से ध्यान में रखती है और उन्हें आर्थिक सहायता प्रदान करने का प्रयास करती है।

3. खेती की स्थिरता बढ़ाना: योजना के माध्यम से किसानों को अपनी खेती के लिए आर्थिक संकटों से निकलने में मदद मिलती है, जिससे वे अधिक उत्पादक और स्थिर बन सकते हैं।

4. खेती में प्रौद्योगिकी और विज्ञान का प्रोत्साहन: योजना के अंतर्गत वित्तीय सहायता के माध्यम से किसान अधिक मॉडर्न खेती प्रौद्योगिकियों का उपयोग करने के लिए सामर्थ्य प्राप्त कर सकते हैं, जिससे उनकी उत्पादनक्षमता बढ़ती है।

5. आर्थिक और सामाजिक समानता: योजना के माध्यम से वित्तीय सहायता किसानों के बीच आर्थिक और सामाजिक समानता को बढ़ावा देने में मदद करती है, खासकर गरीब और असमर्थ किसानों को।

6. खेती से जुड़े किसानों की स्वास्थ्य और शिक्षा के लिए संकेत: pm kisan samman nidhi योजना के अंतर्गत किसानों को उनकी खेती से आये धन का उपयोग उनकी और उनके परिवार के स्वास्थ्य और शिक्षा के लिए करने में मदद मिलती है।


किसान सम्मान निधि योजना विवरण | pm kisan samman nidhi scheme details -


योजना का नाम: 

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना

प्रस्तावित किया गया था: 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा

प्रस्तावित तिथि: 

फरवरी 2019

मंत्रालय: 

किसान कल्याण मंत्रालय

पंजीकरण की शुरुआत तिथि: 

अब उपलब्ध है

पंजीकरण की अंतिम तिथि:

अभी तक घोषित नहीं हुई है

स्थिति: 

सक्रिय

योजना की लागत:

75,000 रुपये

लाभार्थी की संख्या:

12 करोड़

लाभार्थी:

छोटे और सीमांत किसान

लाभ: 

₹6000 की वित्तीय सहायता

आवेदन का तरीका: 

ऑनलाइन/ऑफलाइन

आधिकारिक वेबसाइट

http://pmkisan.gov.in/



प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना में हुए बदलाव | pm kisan samman nidhi scheme changes - 

1. आधार कार्ड अनिवार्य: अब यदि आप प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना का लाभ चाहते हैं, तो आपके पास आधार कार्ड होना अनिवार्य है। यदि आपके पास आधार कार्ड नहीं है, तो आप इस योजना का लाभ नहीं उठा सकते।

2. जोत की सीमा खत्म: प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना की शुरुआत में केवल उन्हीं किसानों को शामिल किया गया था जिनके पास 2 हेक्टेयर या फिर 5 एकड़ खेती योग्य जमीन थी। अब केंद्र सरकार ने इस सीमा को खत्म कर दिया है।

3. स्टेटस जानने की सुविधा: अब आप प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के अंतर्गत अपने आवेदन का स्टेटस खुद जान सकते हैं। इसके लिए आपको केवल आधार नंबर, मोबाइल नंबर, या खाता नंबर होना चाहिए, जिसकी मदद से आप अपने आवेदन का स्टेटस चेक कर सकते हैं।

4. खुद रजिस्ट्रेशन करने की सुविधा: प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना (pm kisan) की शुरुआत में पंजीकरण करवाने के लिए लोगों को लेखपाल, कानूनगों, और कृषि अधिकारियों के पास जाना पड़ता था, लेकिन अब सरकार ने यह बाध्यता खत्म कर दी है। अब कोई भी किसान अपना पंजीकरण घर बैठे खुद कर सकता है।

5. किसान क्रेडिट कार्ड: जिन किसानों ने प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के अंतर्गत पंजीकरण करवाया है, उन्हें किसान क्रेडिट कार्ड बनवाने के लिए कोई अतिरिक्त दस्तावेज देने की आवश्यकता नहीं है। इससे किसानों को किसान क्रेडिट कार्ड बनवाने में आसानी होगी, और उनकी आर्थिक स्थिति में सुधार आएगा।


प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना" के लिए आवश्यक दस्तावेज़ | Documents for pm kisan samman nidhi scheme -

1. कृषि जमीन होनी चाहिए: आवेदक के पास किसी जमीन का स्वामित्व होना चाहिए, जिसमें खेती की जाती है।

2. कृषि भूमि के कागज़ात: आवेदक को अपनी कृषि भूमि के संबंधित कागज़ात की प्रमाणित प्रतियाँ प्रस्तुत करनी होती हैं।

3. आधार कार्ड: आवेदक का आधार कार्ड और आधार नंबर योजना के लिए अनिवार्य होता है।

4. पहचान पत्र: आवेदक को अपनी पहचान पत्र (जैसे कि पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस, वोटर आईडी, आदि) की प्रमाणित प्रतियाँ प्रस्तुत करनी होती हैं।

5. बैंक खाता पासबुक: आवेदक का बैंक खाता पासबुक, जिसमें योजना के अंतर्गत धनराशि स्थानांतरित की जाती है, की प्रमाणित प्रतियाँ प्रस्तुत करनी होती हैं।

6. मोबाइल नंबर: आवेदक का सक्रिय मोबाइल नंबर योजना के लिए अनिवार्य होता है, जिसके माध्यम से योजना से संबंधित सूचनाएँ और स्थिति अपडेट की जाती हैं।

7. पते का सबूत: आवेदक को अपने निवास का पते का सबूत प्रस्तुत करना होता है।

8. खेत की जानकारी: आवेदक को अपने खेत के आकार और खेत की जानकारी प्रस्तुत करनी होती है, जैसे कि कितनी जमीन है और कितना खेती योग्य है।

9. पासपोर्ट साइज फोटो: आवेदक को अपनी पासपोर्ट साइज की फोटो प्रस्तुत करनी होती है।


प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना 2023 में ऑनलाइन आवेदन कैसे करें | Online application process - 

1. सबसे पहले, pm kisan samman nidhi yojana की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं: http://pmkisan.gov.in/

2. वेबसाइट पर आपको "Farmers Corner" का ऑप्शन दिखाई देगा। इस ऑप्शन पर क्लिक करें।

3. "Farmers Corner" में तीन और ऑप्शन दिखाई देंगे, इनमें से "New Farmer Registration" के ऑप्शन पर क्लिक करें।

4. "New Farmer Registration Form" पर क्लिक करने के बाद, आपके सामने एक फॉर्म खुलेगा।

5. इस फॉर्म में आपको अपना Aadhar Card Number और Captcha Code भरना होगा, और आगे पूछी गई सभी आवश्यक जानकारी को पूरा करना होगा।

6. सभी आवश्यक जानकारी को भरने के बाद, "Submit" बटन पर क्लिक करें।

7. इसके बाद, आपको अपने रजिस्ट्रेशन फॉर्म का प्रिंटआउट निकालने की सलाह दी जाती है, जिसे आप भविष्य के लिए सुरक्षित रख सकते हैं।

8. इस तरह, आपका आवेदन पूरा हो जाएगा। ध्यान दें कि यह ऑनलाइन प्रक्रिया है और आपको आवश्यक दस्तावेज़ को भरकर योजना के तहत आवेदन करना होगा।


पीएम-किसान योजना के लिए ऑफलाइन आवेदन कैसे करें | Offline application process - 

1. जो लोग पीएम-किसान योजना (pm kisan samman nidhi scheme) का लाभ उठाना चाहते हैं और ऑनलाइन आवेदन करने में सक्षम नहीं हैं, वे अपने सम्बंधित तहसीलदार, ग्राम प्रधान, या ग्राम पंचायत से संपर्क कर सकते हैं।

2. गोवा सरकार ने पीएम-किसान योजना के तहत ऑफलाइन आवेदन का विकल्प शुरू किया है। इसके तहत गोवा के 11,000 किसानों को भारतीय डाक के साथ जोड़ने के लिए सहायता प्रदान की जा रही है।

3. गोवा के सभी 255 डाक घरों और 300 कर्मचारियों को इस कार्य में शामिल किया गया है, जो किसानों को उनके घरों में जाकर ऑफलाइन पंजीकरण करेंगे।

4. पंजीकरण करने के लिए, डाकघर के कर्मचारी घर-घर जाकर किसानों के आवेदन प्रक्रिया का सहायक करेंगे।

5. गोवा में अब तक 10,000 किसानों का पंजीकरण हो चुका है, और बाकी 11,000 किसानों का पंजीकरण डाक विभाग द्वारा किया जाएगा।

6. डाक विभाग ने अब तक 5,000 किसानों से संपर्क किया है और उनका पंजीकरण किया है।

7. यदि कोई किसान बैंक खाता नहीं रखता है, तो वह भारतीय पोस्ट के माध्यम से एक नया खाता खोल सकता है।

8. ऑफलाइन आवेदन की सुविधा अभी केवल गोवा राज्य में ही उपलब्ध है, लेकिन इसका विस्तार अन्य राज्यों में भी हो सकता है।


पीएम-किसान योजना से किसानों को लाभ | Benefits of pm kisan samman nidhi scheme -

1. प्रत्येक वर्ष ₹6,000 की सहायता: प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत, पात्र किसानों को प्रत्येक वर्ष ₹6,000 की सहायता दी जाती है, जो उनकी आर्थिक स्थिति में सुधार करती है।

2. आर्थिक सुरक्षा: kisan samman nidhi योजना के माध्यम से किसान आर्थिक सुरक्षा प्राप्त करते हैं और उन्हें अनियमित आय की तुलना में नियमित आय की गारंटी मिलती है।

3. खेती में निवेश: प्राप्त धनराशि का उपयोग खेती में निवेश के लिए किया जा सकता है, जिससे खेती की वृद्धि और उत्पादन में सुधार होता है।

4. ऋण की छूट: किसान योजना के तहत किसानों को ऋण की छूट मिल सकती है, जिससे उनकी ऋण पर बोझ कम होता है।

5. खेती की तकनीकी नवाचार: योजना के अंतर्गत किसानों को खेती की तकनीकी नवाचार और उन्नत खेती प्रक्रियाओं का प्रशिक्षण भी दिया जाता है।

6. किसान क्रेडिट कार्ड: योजना के अंतर्गत किसानों को किसान क्रेडिट कार्ड बनवाने में सहायता मिलती है, जिससे उन्हें ऋण की पहुंच में सुधार होता है।

7. किसानों की ज़रूरतों की पूर्ति: योजना से किसान अपनी आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए धन जुटा सकते हैं, जैसे कि खरीददारी के लिए बीज, खाद, और कृषि उपकरण।

8. किसानों का सामाजिक सुरक्षा: pm kisan yojana से किसान सामाजिक सुरक्षा प्राप्त करते हैं, जो उनके जीवन को स्थायी बनाती है।

9. बचत और निवेश: प्राप्त धन को बचाने और निवेश करने का मौका मिलता है, जिससे किसान अपने आर्थिक स्थिति को मजबूत कर सकते हैं।

10. सरकार की सहायता: किसानों को सरकार की पूर्ण सहायता मिलती है, जो उनके लिए विभिन्न आर्थिक सुविधाओं की प्राप्ति कराती है।


Farmer also read | किसानों द्वारा पढ़े जाने वाले लेख - 

1. tomato leaf blight: टमाटर झुलसा रोग के लक्षण, प्रसार और नियंत्रण

2. soybean pod borer: सोयाबीन फली छेदक कीट - पहचान, नियंत्रण और प्रबंधन

3. pink bollworm chemical control: कपास की गुलाबी सुंडी नियंत्रण

4. antracol fungicide: बायर एंट्राकोल फफूंदनाशी - जाने उपयोग के फायदे 

5. armyworm in maize: मक्के में सैनिक सुंडी नियंत्रण A to Z जानकारी



लेखक

भारतअ‍ॅग्री कृषि डॉक्टर

Back to blog

Leave a comment

Please note, comments need to be approved before they are published.


होम

वीडियो कॉल

VIP

फसल जानकारी

केटेगरी