🌱जाने करेला और तुरई के फल मक्खी का नियंत्रण कैसे करें 👌

🌱जाने करेला और तुरई के फल मक्खी का नियंत्रण कैसे करें 👌

✅आज ही घर बैठे इस किट की खरीदी के लिए निचे दिए गए लिंक पर क्लिक - https://krushidukan.bharatagri.com/collections/special-kits/products/bitter-gourd-ridge-gourd-fruit-borer-kit

============================================================

👨‍🌾नमस्कार किसान भाइयों ! 🙏

🌱भारतअ‍ॅग्री मे आपका स्वागत है 💐

✅आजका विषय - 🌱जाने करेला और तुरई के फल मक्खी का नियंत्रण कैसे करें 👌

किसान भाइयो बाजारों में सब्जियों की मांग काफी हद तक ज्यादा होती है , क्योंकि सीजन में सब्जियों की आवक काफी कम होती है। जिस वजह से सब्जियों का भाव अधिक होता है। वर्तमान में अधिकतर किसान सब्जियों की बागवानी कर उचित मुनाफा भी कमा रहे हैं। लेकिन किसान मौसम में पारंपरिक सब्जियों जैसे भिंडी, तोरई, घीया, टिंडा, खीरा, ककड़ी आदि की खेती ही करते है, इनकी खेती से किसानों को औसत लाभ ही मिलता है। लेकिन किसान अब कुछ ऐसी सब्जियों की खेती कर रहे हैं, जिससे उनकी काफी मोटी कमाई हो रही है। ऐसी ही एक खेती करेले और तुरई की है।

✅करेले और तुरई की फसल में घातक कीट फल छेदक इल्ली -

👉इस कीट का प्रकोप फसल में फलन वाली अवस्था में होता है |
👉मादा कीट फूलों के केलिक्स पर अंडे देती है |
👉अंडों से कैटरपिलर बनते हैं जो विकसित फलों के अंदर छिद्र करते हैं |
👉कैटरपिलर द्वारा त्यागा गया मल कैटरपिलर द्वारा बनाए गए छिद्र से बाहर आने लगता है |
👉कैटरपिलर फल के गूदे और बीजों को खाते हैं जिसके फलस्वरूप द्वितीय संक्रमण के रूप में बैक्टीरिया और फफूंद जनित रोग लगते हैं |
👉फल सड़ने लगते हैं, फलों से अप्रिय गंध आती है |

✅प्रतिबंधक उपाय -
खेत की गहरी जुताई करे और समस्या आने के पहले ही फेरोमोने ट्रैप प्रति एकड़ 5 -6 का उपयोग कर प्रतिबंधक उपाय करे।

✅फल छेदक इल्ली की समस्या का समाधान और पूर्ण नियंत्रण -

👉प्रोफेनोफोस 40% + साइपरमेथ्रिन 4% EC - 400 मिली प्रति एकड़
👉थिएमेथॉक्सम (12.6%) + लैम्ब्डासाइलोथ्रिन (9.5%) जेडसी - 80 मिली प्रति एकड़
👉नोवालयूरों 10 % इ.सी. - 250 मिली प्रति एकड़
👉इंडोक्साकार्ब 14.5% एससी - 160 - 200 मिली प्रति एकड़
👉क्लोरेंट्रानिलिप्रोल 18.5% एससी - 60 मिली प्रति एकड़
👉स्पिनिटोरम 11.7% एससी - 180 मिली प्रति एकड़

✅गॉर्ड सुरक्षा किट (प्रमुख उत्पाद)

1️⃣धानुका - EM 1 100 ग्राम प्रति एकड़
2️⃣बायोप्राइम - प्राइम 7525 - 500 मिली प्रति एकड़
3️⃣आनंद एग्रो केयर- आनंद वेट गोल्ड 25 मिली प्रति एकड़

👉उपयोग विधि - 150 -200 लीटर पानी में अच्छे से मिलकर एक एकड़ फसल में छिड़काव करे

⚡MRP - 1346
⚡BA Price - 899
⚡Saving - 447
⚡Discount - 33 %

✅आज ही घर बैठे इस किट की खरीदी के लिए निचे दिए गए लिंक पर क्लिक करे - https://krushidukan.bharatagri.com/collections/special-kits/products/bitter-gourd-ridge-gourd-fruit-borer-kit

और पाए -
⚡फ्री होम डिलीवरी
⚡भारी छूट
⚡और 100 % कॅश ऑन डिलीवरी

आपको यह वीडियो 📷कैसा लगा यह हमें कमेंट में बताना न भूलें , और इस वीडियो को अपने अन्य 🧑‍🌾किसान मित्रों के साथ भी जरूर शेयर करें👍

✅हमारे अन्य सोशल मीडिया पेजेस -

👉भारतअ‍ॅग्री ऍप - http://bit.ly/2ZyV2yl
👉भारतअ‍ॅग्री कृषि दुकान - https://krushidukan.bharatagri.com/
👉फेसबुक हिन्दी - https://bit.ly/36KuGOe
👉फ़ेसबुक मराठी - https://bit.ly/36KuGOe
👉इंस्टाग्राम - https://bit.ly/3B9Ny8G
👉वेबसाइट - www.bharatagri.com
👉लिंक्ड इन - https://bit.ly/3TWtK0Z
👉भारतअ‍ॅग्री मराठी यूट्यूब चैनल - https://bit.ly/3Ryf3zt
👉भारतअ‍ॅग्री हिन्दी यूट्यूब चैनल - https://bit.ly/3L2cRxF

#bharatagri #agriculture #hindi #farming #bharatagrihindi #kisan #kheti #fasal

Back to blog

Leave a comment

Please note, comments need to be approved before they are published.