🌱आलू की खेती - एकड़ मे 200 क्विंटल से अधिक उत्पादन की गारंटी 👌

🌱आलू की खेती - एकड़ मे 200 क्विंटल से अधिक उत्पादन की गारंटी 👌

 

👨‍🌾नमस्कार किसान भाइयों ! 🙏

🌱भारतअ‍ॅग्री मे आपका स्वागत है 💐

✅आजका विषय - 🌱आलू की खेती - एकड़ मे 200 क्विंटल से अधिक उत्पादन की गारंटी 👌

✅आलू की खेती -
सब्जियों का राजा है आलू। आलू रबी सीजन की प्रमुख फसलों में से एक है। आलू को अकालनाशक फसल भी कहते हैं। उत्पादन के मामले में आलू की फसल की उपज क्षमता दूसरे फसलों से ज्यादा है। भारत में आलू की खेती सबसे अधिक उत्तर प्रदेश, पंजाब, हरियाणा, मध्य प्रदेश राज्य में होती है। अधिक उपज के कारण आलू की खेती किसानों की पहली पसंद है।

✅जलवायु
आलू की खेती के लिए ठंड का मौसम अर्थात रबी का सीजन काफी उपयुक्त है। इसके लिए दिन का तापमान 25 से 30 डिग्री सेल्सियस और रात का तापमान 15 से 20 डिग्री सेल्सियस तक होनी चाहिए। वहीं कंद बनने के समय 20 से 25 डिग्री सेल्सियस ज्यादा नहीं होनी चाहिए। क्योंकि इससे ज्यादा तापमान होने पर कंदों का विकास रूक जाता है।

✅मिट्टी या भूमि
आलू की खेती के लिए समतल और मध्यम ऊंचाई वाले खेत ज्यादा उपयुक्त होते हैं। साथ ही अच्छी जल निकासी वाली दोमट मिट्टी और बलुई दोमट मिट्टी जिसकी पीएच मान 5.5 से 5.7 के बीच हो।

✅खेत की तैयारी
पहली जुताई मिटटी पलटने वाले हल से तथा बाद में डिस्क हैरो या कल्टीवेटर से 2-3 जुताईयां करके खेत को समतल करते हुए भुरभुरा बना लेना चाहिए।

✅आलू की प्रमुख किस्मे -
👉जे एच- 222
👉लेडी रोसैट्टा
👉कुफरी चंद्रमुखी
👉कुफरी बहार
👉कुफरी ज्योति
👉कुफरी लवकर
👉कुफरी अशोक
👉जे. ई. एक्स. 166 सी
👉कुफरी पुष्कर
👉कुफरी बादशाह,
👉कुफरी चिप्सोना- 4
👉कुफरी सिंधुरी
👉कुफरी चिप्सोना- 1
👉कुफरी चिप्सोना- 3

✅प्रति एकड़ बीज की मात्रा
आलू की 1 एकड़ फसल तैयार करने के लिए मध्यम (40 से 50 ग्राम ) लगाने से एक एकड़ में 13 से 15 क्विंटल और छोटे आकर के लिए 6 से 8 क्विंटल बीज की आवश्यकता होती हे।

✅बुवाई का सही समय -
आलू की बुआई का समय इसकी किस्म पर भी निर्भर करता है। इसकी अच्छी उपज को लिए सितम्बर से अंतिम सप्ताह से नवंबर से प्रथम सप्ताह तक का समय उपयुक्त माना गया है।

✅बीजोपचार -
👉बीज को पहले रासायनिक फफूंदीनाशक से उपचारित करने के बाद जैविक कल्चर से छाया में उपचारित कर तुरंत बुआई करें, जिससे जैविक बैक्टीरिया जीवित रह सकें।
👉फसल को उकठा रोग से बचाने के लिए बीज को बुआई के पूर्व फफूंदीनाशक वीटावैक्स पॉवर 3 ग्राम दवा प्रति किलो बीज की दर से उपचारित करें। इसके पश्चात एक किलो बीज में राइजोबियम 👉कल्चर 5-6 ग्राम तथा ट्राइकोडर्मा विरडी 2 - 3 मिली मिलाकर उपचारित करें।

✅उर्वरक प्रबंधन -
👉खेत की तैयारी करते समय 2 - 3 टन अच्छी सड़ी हुई गोबर की खाद ले और उसमे 1 लीटर कम्पोस्टिंग बैक्टीरिया मिलाकर खेत में डालें।
👉प्रति एकड़ रासायनिक खाद 4 - 6 किलो रीजेंट अल्ट्रा , 100 किलोग्राम DAP , 100 किलोग्राम पोटाश , 50 किलोग्राम यूरिया, 200 किलोग्राम SSP, 8 किलोग्राम धनजाइम गोल्ड का उपयोग करे।

✅आलू की बुआई विधि
👉आलू की बुआई अन्य फसलों या सब्जियों की बुआई से एकदम अलग होती है।
👉आलू की बुआई करते समय कतार से कतार और पौधा से पौधा की दूरी और गहराई का भी ख्याल रखें।
👉आलू कम गहराई पर बोने से सूख जाते हैं जबकि अधिक गहराई पर बोने से नमी की अधिकता के कारण बीज सड़ जाते हैं।
👉आलू की बुआई करते समय कतार से कतार 50 से 60 सेंटीमीटर और पौधा से पौधा 15 से 20 सेंटीमीटर की दूरी रखें।
👉पछेती किस्मों में पौधों का विकास अधिक होती है। अतः इन किस्मों की बुआई 60 से 70 सेंटीमीटर और पौधा से पौधा दूरी 20 से 25 सेंटीमीटर रखा जाता है।

✅सिंचाई प्रबंधन
आलू की खेती के लिए पानी की आवश्यकता कम होती है। पहली सिंचाई आलू की फसल में 10-20 दिनों के भीतर कर देनी चाहिए। इसके बाद 10-15 दिन के अंतराल में थोड़ी-थोड़ी सिंचाई करते रहने चाहिए। सिंचाई के दौरान इस बात का ख्याल रखें कि मेड़ 2 से 3 इंच से ज्यादा नहीं डूबे।

✅निराई-गुड़ाई
आलू की बुआई के 20 से 25 दिन बाद खरपतवारों को हटा दें, इस दौरान आलू पर मिट्टी पर कुछ मिट्टी चढ़ाकर नालियों को व्यवस्थित कर सकते हैं।

✅खुदाई
बाजार भाव एवं आवश्यकता को देखते हुए रोपनी के 60 दिन बाद आलू का खुदाई की जाती है। यदि भंडारण के लिए आलू रखना हो तो कंद की परिपक्वता की जाँच के बाद ही खुदाई करें। परिपक्वता की जाँच के लिए कंद को हाथ में रखकर अंगूठा से दवाकर फिसलाया जाता है यदि ऐसा करने पर कंद का छिलका अगल नहीं होता है तो समझा जाता है कि कंद परिपक्व हो गया है। ऐसे कंद की खुदाई करने से भंडारण के कंद सड़ता नहीं है।


आपको यह वीडियो 📷कैसा लगा यह हमें कमेंट में बताना न भूलें , और इस वीडियो को अपने अन्य 🧑‍🌾किसान मित्रों के साथ भी जरूर शेयर करें👍

✅हमारे अन्य सोशल मीडिया पेजेस -
👉भारतअ‍ॅग्री ऍप - http://bit.ly/2ZyV2yl
👉भारतअ‍ॅग्री कृषि दुकान - https://krushidukan.bharatagri.com/
👉फेसबुक हिन्दी - https://bit.ly/36KuGOe
👉फ़ेसबुक मराठी - https://bit.ly/36KuGOe
👉इंस्टाग्राम - https://bit.ly/3B9Ny8G
👉वेबसाइट - www.bharatagri.com
👉लिंक्ड इन - https://bit.ly/3TWtK0Z
👉भारतअ‍ॅग्री मराठी यूट्यूब चैनल - https://bit.ly/3Ryf3zt
👉भारतअ‍ॅग्री हिन्दी यूट्यूब चैनल - https://bit.ly/3L2cRxF

#bharatagri #agriculture #hindi #farming #bharatagrihindi #kisan #kheti #fasal

Back to blog

Leave a comment

Please note, comments need to be approved before they are published.


होम

वीडियो कॉल

VIP

फसल जानकारी

केटेगरी